एक ऐसा शक्स जो कभी हार नहीं मानता। आखरी कोशिश के बाद भी एक चांस लेना पसंद करता है। पत्रकार बना क्योंकि समय की नजाकत थी। अच्छा लिख लेता हूँ, क्योंकि शौक को अपना प्रोफेशन बनाया। खुद पर यकीं है और मुझे नहीं लगता कि कोई ऐसा काम है, जिसे मैं नहीं कर सकता। अपने फैसलों पर टिके रहना मेरी आदत है।

Saturday, December 26, 2009

इतिहास रचा, राजस्थान ने बनाए दो विश्व रिकॉर्ड


प्रतिष्ठित गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रेकॉर्ड्स के लिए राजस्थान से पहली बार एक साथ दो विश्व रिकॉर्ड कायम करने के लिए सफल प्रदर्शन किया गया। शहर के ट्रायटन मॉल में आयोजित एक प्रदर्शन कार्यक्रम में हजारों लोग विश्व रिकॉर्ड के साक्षी बने। यहां शहर के छह युवाओं ने दो विश्व रिकॉर्ड अपने नाम करते हुए सफल प्रदर्शन किया जिसमें विश्व का सबसे बड़ा कैलेंडर और विश्व की सबसे लंबी सुई का रिकॉर्ड शामिल है।

यह 2 विश्व रिकॉर्ड हुए ब्रेक:-

1. विश्व का सबसे बड़ा 'लार्जेस्ट वॉल कैलेंडर' जिसका आकार 120 फीट x 40 फीट और वजन 115 किलोग्राम है। विश्व का सबसे बड़ा कैलेंडर 'लार्जेस्ट वॉल कैलेंडर' बनाने का रिकॉर्ड इससे पहले 23 मार्च, 2007 को जर्मनी की एक संस्था ने अपने नाम करवाया था। यह कैलेंडर 104 फीट x32 फीट का था।

बनाने वाली टीम : मनमोहन अग्रवाल व अनुज कुच्छल।


2.विश्व की सबसे बड़ी सुई 'लार्जेस्ट स्विंग नीडल'। सुई का आकार 8.1 फीट। विश्व की सबसे बड़ी सुई 'लार्जेस्ट स्विंग नीडल' का रिकॉर्ड इससे पहले ब्रिटेन निवासी जॉर्ज डेविस के नाम था। डेविस ने 6 फीट 1 इंच की सुई बनाकर रिकॉर्ड अपने नाम किया था।

बनाने वाली टीम : निशांत चौधरी, राजबाला, आलोक शर्मा, प्रवीण जाखड़।

रिकॉर्ड होल्डर्स की मौजूदगी में हुआ प्रदर्शन


विश्व रिकॉर्ड प्रदर्शन के साक्षी बने देशभर से आए रिकॉर्ड होल्डर्स अनिल सैन, विष्णु अग्रवाल, सुखविंदर, यशपाल, सुनील जांगिड़, भवानी सिंह, आयुष, जगमोहन सक्सेना, नवरत्न प्रजापति, गोपाल प्रसाद शर्मा, बलदेव चावला, चेतन सोनी, प्रदीप कुमार सोनी, पीयूष दादरीवाला में से कईयों ने अपनी कला / रिकॉर्ड कार्यक्रम में प्रदर्शित किए।

16 comments:

Suman said...

nice

Syed said...

Badhaii Aaapko :)

काजल कुमार Kajal Kumar said...

nice
:))

Arvind Mishra said...

vaah !

Udan Tashtari said...

बहुत बधाई!!

कुश said...

कैलेण्डर तो वहां देख लिया था.. पर नीडल नहीं देख पाए अच्छा हुआ आपने ब्लॉग पर दिखा दी.. बहुत बधाई..

ताऊ रामपुरिया said...

बधाई जी.

रामराम.

Anonymous said...

Congratulations on this achievement.


U should also post the information about who all contributed in the successful accomplishment of this World Record.

Like who all provided u the back-end support, raw material, funds, etc.

Public will be delighted to know this also. After all, their(team's) contribution is the strongest support that helped in turning this dream into a reality.

Kishore Choudhary said...

बधाई

और जो इस शब्द से बेहतर हो वे सारी शुभकामनाएं .

ललित शर्मा said...

बधाई और सभी रिकार्ड बनाने वाले साथियों को शुभकामनाएं।

S B Tamare said...

नया साल २०१० मुबारक हो !

उम्मीद ही नहीं विशवास है नया वर्ष आपके और आपके परिवार के लिए खुशियों भरा होगा /

साल दो हजार दस , नहीं कहेगा खुशियाँ और नहीं बस !

थैंक्स!

S B Tamare said...

प्रिय प्रवीन जी,
नया साल 2010 आपको मुबारक हो /
उम्मीद ही नहीं विशवास है की आयन्दा वर्ष आपके लिए अनेक नयी सफलताए लेकर आये गा /
पुनश्च, गत वर्ष 2009 के दिसंबर महीने की 31 तारीख व्यतीत हो चुकी है /
थैंक्स/

दुलाराम सहारण said...

बधाई,

वर्ष 2010 में आप इससे भी बेहतर करें,

शुभकामनाएं


सादर

दुलाराम सहारण said...

बधाई,

वर्ष 2010 में आप इससे भी बेहतर करें,

शुभकामनाएं


सादर

Mohammed Umar Kairanvi said...

भाई राजस्‍थान वालों को 2 विश्व रिकॉर्ड पाने पर बधाई, आप एकमात्र ने जो मेरे लिए ब्‍लागवाणी से दरखास्‍त की थी वह मन्‍जूर कर ली गई, उन से एक झंडा मांगा था परन्‍तु उन्‍होंने अभी पहले डण्‍डा थमाया है और कहा है झण्‍डा भी दे दिया जाएगा, अभी डण्‍डे से खेलो,

आपका धन्‍यवाद वास्‍ते डण्‍डा अर्थात
umarkairanvi.blogspot.com

Jitendra Bagria said...

badhaaiyan ji !!

 
Design by Wordpress Theme | Bloggerized by Free Blogger Templates | coupon codes